Buy 100% Natural Best Bel Sharbat Online at Best Price (बेल)

80.00

Bel Sharbat made with fresh Bael fruit that helps in digestive issue. बेल का शरबत, बेल का शरबत के फायदे. Bel Sharbat Benefits, Fayde in Hindi, bel sharbat uses

Out of stock

✓ 100% Natural and Pure Products
✓ 100% Secure Payments.
✓ Efficient Price.

Guaranteed Safe Checkout

About

Bel Sharbat

बेल शरबत

ग्रीष्मकालीन गुणकारी फल बेल शीतल व स्फूर्तिदायक है। बेल के सभी अंग – जड़, शाखाएँ, पत्ते, छाल और फल औषधि गुणों से भरपूर हैं | पका हुआ बेलफल मधुर, कसैला, पचने में भारी तथा मृदु विरेचक है | इससे पेट साफ़ होता है | अधपका बेलफल भूख व पाचनशक्ति बढ़ानेवाला तथा कृमियों का नाश करनेवाला है |

Ingredients – सामग्री

बेल फल

Bel Sharbat Benefits in Hindi [Bel Sharbat ke Fayde]

  • बेल के नियमित सेवन से शरीर स्वस्थ व सुडौल बनता है। बेल आँतों को ताकत देता है। 
  • इसके सेवन से पाचन भी ठीक होता है। 
  • बेल शरबत पीने से छाती पेट, आँख व पैर की जलन में राहत मिलती है। 
  • यह मुँह के छाले में भी लाभदायी है। 
  • बेल में हृदय को ताकत व दिमाग को ताजगी देने के साथ सात्विकता प्रदान करने का श्रेष्ठ गुण है।
  • यह रस-रक्तादि धातुओं को बढ़ाता है, हृदय को उत्तम बल प्रदान करता है।
  • प्रवाहिका, अतिसार, विशेषत: रक्तातिसार, संग्रहणी, खूनी बवासीर, रक्तप्रदर, पुराना कब्ज, मानसिक संताप, अवसाद ( डिप्रेशन ), चक्कर आना, मूर्च्छा आदि रोगों में लाभदायी है।
  • लू लगने पर बेल के शरबत में नींबू का रस और हलका सा नमक मिला के पिलायें, लू के प्रकोप से बचने के लिए भी यह उपयुक्त है।
  • यह मल के साथ बहनेवाले जलयुक्त भाग का शोषण करता है जिससे अतिसार (दस्त ) रोग में अत्यंत हितकर है।
  • बेल व उसके शरबत के सेवन से ग्रीष्म ऋतू में गर्मी का भीषण प्रकोप सहने की शक्ति आती है।
  • बेल शरबत के सेवन से मासिक स्राव में आनेवाले रक्त की अधिक मात्रा रुक जाती है।
  • बेलफल भूख व पाचनशक्ति बढ़ानेवाला तथा कृमियों का नाश करनेवाला है।
  • बेल शरीर को शीतलता, दिमाग को ताजगी व हृदय को बल प्रदान करता है |

How To Use Bel Sharbat – उपयोग विधि [Kaise Upyog Kare] – Dosage

  • 20 से 40 मि.ली. तक एक गिलास ठंडे पानी में मिलाकर 2 से 3 बार सेवन कर सकते हैं।
  • अरुचि, मंदाग्नि : रात को १० – २० ग्राम बेल के गूदे को जल में भिगो दें | प्रात: मसल – छान के आवश्यकतानुसार मिश्री मिलाकर सेवन करें | इसमें नींबू – रस भी मिला सकते हैं | इससे भूख खुलकर लगती है |
  • स्वप्नदोष : १० – १० ग्राम बेल का गूदा व धनिया तथा ५ ग्राम सौंफ मिलाकर रात को पानी में भिगो दें | सुबह मसल – छान के सेवन करने से कुछ सप्ताहों में स्वप्नदोष में लाभ होता है |
  • धातुक्षीणता : बेल का गूदा, मक्खन व शहद मिलाकर प्रतिदिन सुबह – शाम खाने से शारीरिक शक्ति विकसित होती है, धातु पुष्ट होता है |
  • निम्न रक्तचाप : ग्रीष्म ऋतू में निम्न रक्तचाप के  रोगी को घबराहट होने पर हलका सा सेंधा नमक व अदरक का रस मिलाकर बेल शरबत पीने से बहुत लाभ होता है |
  • अधिक मासिक स्त्राव : १० – २० ग्राम बेल का गूदा सेवन करने से मासिक स्राव में आनेवाले रक्त की अधिक मात्रा रुक जाती है |

–  स्रोत – लोक कल्याण सेतु – मई २०१६ से   

Precaution – सावधानी

: पंचमी को बेल खाने से कलंक लगता है।

बेल का शरबत

बेल के ताजे पके हुए फलों के आधा किलो गूदे को दो लीटर पानी में धीमी आँच पर पकायें। एक लीटर पानी शेष रहने पर छान लें। उसमें दो किलो मिश्री मिला के गाढ़ी चाशनी बनाकर काँच की शीशी में भर के रख लें। चार से छः चम्मच (20 से 40 मि.ली.) शरबत शीतल पानी में मिलाकर दिन में एक दो बार पियें।

सावधानीः पंचमी को बेल खाने से कलंक लगता है।

ऋषि प्रसाद, मई 2010

… . …………..

Additional information

Net Weight (after packaging) 770 g
Volume

700ml

Billing Name

Bael Sharbat

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Buy 100% Natural Best Bel Sharbat Online at Best Price (बेल)”

Your email address will not be published. Required fields are marked *